Abhi Sharma
0
All posts from Abhi Sharma
Abhi Sharma in Abhi Sharma,

विचारों से पूर्ण पुरूष

एक मितव्ययी व्यक्ति ने एक बैंक से एक डॉलर के एक ऋण की मांग की और उसे बताया गया कि साल के अंत में उसे नौ प्रतिशत ब्याज का भुगतान करना होगा।

जमानत के तौर पर, उसने $60,000 अमेरिकी बांडों की पेशकश की। बैंकर ने, एक संभावित जमाकर्ता को देखते हुए, बांड स्वीकार कर लिया और उस आदमी को एक डॉलर दे दिया।

साल के अंत में, वह अपने ऋण को खत्म करने एक डॉलर और नौ सेंट के साथ वापस आया और अपने बांड को वापसी करने के लिए कहा।

बांड लौटाते हुए बैंकर ने पूछा,“मैं जानने का इच्छुक हूँ कि आप के पास इन सभी बांड के बावजूद, आपको एक डॉलर उधार लेने की क्यों ज़रूरत पडी” ।

ठीक है”, मितव्ययी वृद्ध सज्जन ने कहा,“मैं वास्तव में ऐसा करना नहीं चाहता था। लेकिन क्या आप कोइ भी अन्य तरीका आप जानते हैं जिससे कि मैं नौ सेंट प्रति वर्ष के लिए एक सुरक्षित जमा बॉक्स का उपयोग कर सकता था